होमस्पेशल स्टोरीदस संकल्पों के साथ मेयर पद के लिए शिवकुमारी देवी लड़ेंगी चुनाव,...

दस संकल्पों के साथ मेयर पद के लिए शिवकुमारी देवी लड़ेंगी चुनाव, चेयर मैन रहकर खूब किया था विकास

आरा नगर निगम की चुनाव की तिथियां घोषित हो चुकी है। सभी प्रत्याशी अपने-अपने तरीके से मतदाताओं को अपने तरफ से रिझाने का प्रयास प्रारंभ कर दिए हैं। सभी प्रत्याशी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने के लिए कई रणनीति पर काम कर रहे है। इसी क्रम में आरा नगर निगम से मेयर पद के लिए चुनाव लड़ने के लिए शिवकुमारी देवी भी मैदान में उतर गई है। इसको लेकर गुरुवार को शिवकुमारी देवी ने अपने निवास स्थान से प्रेस कांफ्रेंस की है। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने अपने मेयर पद के लिए चुनाव लड़ने की जानकारी दी।

दस संकल्पों के साथ मेयर पद के लिए लडूंगी चुनाव

शिवकुमारी देवी ने चुनाव से पहले अपना विकास मॉडल जारी किया है। जिसमें दस संकल्प है। इसमें पहला संकल्प निगम के इतिहास में पहली बार होगा जहां जनता दरबार का आयोजन करना है। फिर निगम में रिक्त पड़े नौकरियों की होगी बहाली, शहर में नए पार्किंग, स्थलों का चुनाव करना, निगम कर्मचारियों के फैमिली पेंशन का बिल बोर्ड में लगा जाएगा, जन्म मृत्यु पंजीकरण में फैले भ्रष्टाचार की रोकथाम, महिला सुरक्षा के लिए मुहल्ले में स्ट्रीट लाइट का प्रबंध कराना, शहर में चोरी और डकैती रोकने के लिए सीसीटीवी का सुविधा, एकीकृत कचरा प्रबंधन, डोर – टू – डोर संग्रह और निस्तारण, सड़को का सुधार, गड्ढों की मरम्मत तथा पैच रिपेयर, सार्वजनिक शौचालयों, महिला प्रसाधन का निर्माण एवं सफाई है।

चेयर मैन थी तो किया था शहर का विकास

जब मैं 2002 में निगम में चेयर मैन थी, उस दौरान शहर में मैंने बहुत विकास किया था। उस दौरान बस स्टैंड के पास स्ट्रीट लाइट लगाया गया था। जो हमेशा अंधेरा रहता था। इस समय कम संसाधन होते थे और मुझे भी उतने में ही काम करना पड़ता था। लेकिन उस दौर में भी मैंने शहर का विकास किया था। गरीब बस्ती में भी मैंने काम किया है। मैं अकेली महिला हूं जो पूरे शहर के लोगों के बीच जाकर जनसंपर्क करती हूं। हर घर में जाती हूं, प्रत्येक लोगों से मिलती हूं।

मेयर बनने के बाद भूल जाते है सभी

आज कल जो भी मेयर बने है, सब जनता को भूल जाते है। जनता के लिए कोई काम नहीं करते है। अगर मैं जब मेयर बनती हूं तो सबसे पहले शहर में स्ट्रीट लाइट और सीसीटीवी के साथ अपने निवास स्थान पर जनता दरबार लगाऊंगी। क्योंकि जब घर की महिलाएं मार्केट जाती है, तो कहीं न कहीं उनके साथ चैन छीनना या दुर्व व्यवहार करना, शहर में चोरी और क्राइम जैसे घटना घट जाते है। ऐसे में सीसीटीवी और स्ट्रीट लाइट लोगों की मदद करेगा।

निगम में इतने फंड लेकिन फिर भी नहीं हुआ विकास

आरा नगर निगम में बहुत सा फंड है और प्रत्येक वर्ष आता है। लेकिन उसके बाद भी शहर का आज तक विकास नहीं हो पाया है। मेरा मुद्दा सबसे पहले विकास का ही रहेगा। मैं मानती हूं कि आरा शहर में और भी महिला मेयर प्रत्यासी है। लेकिन वो सब केवल घर में रहती है। लेकिन मैं जनसंपर्क करती हूं, लोगों के बीच में जाती हूं। आरा शहर को स्वच्छ और सुंदर बनना है।

Click To Join Us on Telegram Group

Must Read

Translate »