होमस्पेशल स्टोरीनिवर्तमान पार्षद को सिग्नेचर नहीं करने पर बदमाशों ने धमकाया, कहा केस...

निवर्तमान पार्षद को सिग्नेचर नहीं करने पर बदमाशों ने धमकाया, कहा केस वापस लो नहीं तो जान से मार देंगे

ARA. बिहार के आरा में अपराधियों का मनोबल बढ़ता ही जा रहा है। दिन प्रतिदिन भोजपुर पुलिस के सामने नई चुनौतियां खड़ी उतर रही है। ऐसे में पुलिस अधीक्षक और अपर पुलिस अधीक्षक समेत भोजपुर पुलिस जवान भी चैन की नींद नहीं ले पा रहे है। अपराधियों के खुलेआम गोलीबारी से हुई हत्याओं ने पूरे जिले वासियों को दहशत में डाल दिया है। ऐसे में जिला के लोगों की सुरक्षा व्यवस्था में कई प्रकार के सवाल उठने लगे है। वहीं लगातार हुए हत्या के मामलों ने पुलिसिया कार्रवाई पर कड़े सवाल खड़े कर दिए है। आरा में अपराधियों का मनोबल इतना बढ़ गया है कि पुलिस प्रशासन द्वारा अभी एक कांड का उद्भेदन किया जा रहा है तो दूसरी तरफ अपराधी एक और कांड करके फरार हो जा रहे है।

सिग्नेचर नहीं किया तो जान से मार देंगे

ताजा मामला जिले के नवादा थाना क्षेत्र के वार्ड नंबर 45 की निवर्तमान पार्षद रेणु देवी से जुड़ा हुआ है। निवर्तमान पार्षद का कहना है कि 16 नवंबर को जब मैं अपने पति का इलाज कराने के लिए आरा शहर के एक निजी क्लीनिक में गई हुई थी, तो वहां दो के संख्या में बदमाश आए थे। जिन्होंने मुझसे एक कागज पर अपना सिग्नेचर करने के लिए कहा था। मैंने अपना सिग्नेचर करने से मना कर दिया। जिसपर उन्होंने जान से मारने की धमकी दी है। इस घटना के बाद रेणु देवी ने नवादा थाना में आवेदन दिया था। जिसपर पुलिस ने कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

सीसीटीवी फुटेज से पहचान कर कार्रवाई की मांग

रेणु देवी के मुताबिक जब दो बदमाश मुझे सिग्नेचर करवाने के लिए निजी अस्पताल में आए थे, वहां लगी सीसीटीवी कैमरों में उनकी तस्वीरें आई है। ऐसे में पुलिस को उन सीसीटीवी फुटेज के जरिए बदमाशों को पकड़ना चाहिए। वहीं उनका कहना है कि पुलिस अगर उन बदमाशों को समय पर नहीं पकड़ती है तो हो सकता है जो बदमाशों ने कहा है वो कर भी सकते है। यानी रेणु देवी को बदमाशों द्वारा जान से मारने की धमकी दी है है। इधर, सीसीटीवी सामने आने के बाद पुलिस बदमाशों की पहचान कर कार्रवाई में जुट गए है।

मुख्यमंत्री से करेंगी जनता दरबार में न्याय की गुहार

आरा की निवर्तमान पार्षद रेणु देवी को मिली जान से मारने की धमकी के बाद उन्होंने बिहार के मुखिया नीतीश कुमार से जान बचाने की गुहार लगाएंगी। इसको लेकर रेणु देवी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में पत्र भेजकर जान से मारने की धमकी सम्बंधित जांच सहित अपने केश के गवाहों की जान बचाने के लिए गुहार लगाएंगी। फिलहाल रेणु देवी की उम्मीद भोजपुर कप्तान संजय सिंह पर अटकी हुई है।

पुरानी केस के मामले में सुलह कराने आए थे बदमाश

वहीं सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक दो शख्स बेंच पर बैठे हुए है। एक शख्स लाल रंग की शर्ट पहने हुए है और दूसरा हरे रंग की शर्ट और एक लाल गमछा गर्दन में लपेटे हुए है। दोनों ही बेंच पर बैठकर रेणु देवी और एक उनके बगल में खड़े शख्स से बात कर रहा है। रेणु देवी के बगल में खड़ा हुआ शख्स पेपर को पढ़ रहा है और उसी सफेद रंग की शर्ट पहने इंसान के पीछे रेणु देवी खड़ी है। वहीं रेणु देवी ने कहा कि दोनों ही बदमाश एक पुरानी केस (2018 का) को सुलह कराने आए थे। वो बोल रहे थे केस वापस ले लो। तुम्हारे पति के इलाज का सारा खर्चा हम दे देंगे। अगर केस वापस नहीं लिया तो जान से मार दिए जाओगे। हालांकि घटना पुलिस थाने में रिकॉर्ड कर ली गई है।

Click To Join Us on Telegram Group

Must Read

Translate »